ममता बनर्जी ने लालकृष्ण आडवाणी के पैर छूकर लिया आशीर्वाद

87

असम में तैयार किए गए राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) के अंतिम मसौदे को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बेहद नाराज हैं। ममता बनर्जी आज से तीन दिन के दौरे पर दिल्ली आईं हैं। दिल्ली पहुंचकर ममता बनर्जी का एक अलग ही रूप देखने को मिला। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने संसद में पूर्व उपप्रधानमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी से मुलाकात की। इस दौरान ममता बनर्जी ने आडवाणी के पैर छूकर आशीर्वाद भी लिया।

मीडिया सूत्रों के मुताबिक ममता बनर्जी ने अडवाणी के साथ 15 मिनट तक बातचीत की। इस दौरान क्या बात हुई यह स्पष्ट नहीं हो पाया हालांकि बताया जा रहा है कि दोनों के बीच राजनीतिक हालात पर चर्चा हुई।  ममता ने इसे शिष्टाचार भेंट बताया है। ममता आज कांग्रेस नेता सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगी।

वहीं दूसरे विपक्षी दलों के नेताओं से भी ममता मिलेंगी बताया जा रहा है कि ममता बनर्जी संसद में दोपहर में  विपक्षी दलों के सांसदों से मिलेंगी। शाम को सोनिया गांधी से उनके घर मिलने जाएंगी।

मंगलवार को ममता ने  एनसीपी चीफ शरद पवार, उनकी बेटी सुप्रिया सूले, बीजेपी के बागी यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा के साथ राम जेठमलानी से मुलाकात की थी। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा था कि बीजेपी से मुकाबले के लिए विपक्षी मोर्चा सामूहिक नेतृत्व के साथ चुनाव में उतरेगा।

19 जनवरी को कोलकाता में होने वाली रैली को ममता ऐंटी-बीजेपी रैली का रूप देना चाहती हैं। इसी क्रम में वह इन नेताओं से मुलाकात कर उन्हें रैली में आने का निमंत्रण दे रहीं हैं।कांग्रेस पहले ही यह संकेत दे चुकी है कि वह गैर आरएसएस समर्थित किसी भी दल के किसी नेता को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाये जाने के खिलाफ नहीं है।

गौरतलब है कि लालकृष्ण आडवाणी बीजेपी के संस्थापक सदस्यों में से एक हैं,अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में ममता बनर्जी भी भागीदार रह चुकी हैं।