हाथी को डूबने से बचाने के लिए रोक दिया गया डैम का पानी, देखें तस्वीरे

59

मुसीबत में फंसे जानवरों को बचाकर मनुष्य अपनी इंसानियत का परिचय देता आया है। एक ऐसा ही मामला केरल के त्रिशूर में आया है जहां नदी की बाढ़ में फंसे एक हाथी को सुरक्षित निकालने के लिए स्थानीय प्रशासन ने बांध का पानी रोक दिया। प्रशासन के इस पहल की चारों तरफ प्रशंसा हो रही है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक अथीरापल्ली के नजदीक चलक्कुडिपुझा नदी में आई बाढ़ से चरपा झरने में एक हाथी फंस गया। इस हाथी को बचाने के लिए वन विभाग और केरल राज्य विद्युत बोर्ड के अधिकारियों ने सोमवार सुबह नदी का जलस्तर कम करने के लिए पेरिंगलकुथू बांध के दरवाजे बंद कर दिए।

Elephant

मछली पकड़ने गए स्थानीय आदिवासियों ने नदी में एक ऊंचे स्थान पर पानी में घिरे हाथी को देखा। आदिवासियों ने इसकी जानकारी तुरंत वन विभाग के अधिकारियों को दी।

Elephant

चरपा क्षेत्र के वन विभाग के अधिकारी मोहम्मद राफी ने बताया, ‘हमें लगा कि हाथी नदीं में नहाने गया है लेकिन बाद में हमें पता चला कि वह नदी के पानी में फंस गया है। वह आगे नहीं बढ़ पा रहा था। पानी उसके नथुनों को छू रहा था।’

इसके बाद वन विभाग के अधिकारियों ने केएसईबी के अधिकारियों को सूचित किया और फिर अभियान चलाकर हाथी को बचाया गया।